जोधानी पेपर्स 1000 टीपीडी क्राफ्ट पेपर उत्पादन के स्तर पर पंहुचा, 500 टीपीडी की नई तीसरी इकाई तुमकुर में शुरू हुई

Total Views : 3,478
Zoom In Zoom Out Read Later Print

जोधानी पेपर्स ने 500 टीपीडी की नई तीसरी इकाई तुमकुर में शुरू की

जोधानी पेपर्स 1000 टीपीडी क्राफ्ट पेपर उत्पादन के स्तर पर पंहुचा, 500 टीपीडी की नई तीसरी इकाई तुमकुर में शुरू हुई

बैंगलोर | 16 अगस्त 2021 | द पल्प एंड पेपर टाइम्स: 

कागज की गुणवत्ता को लेकर कोई समझौता ना करने की मानसिकता के साथ, जोधानी समूह 160000 मीट्रिक टन प्रति वर्ष की क्षमता वाला एक नया रीसाइक्लिंग पेपर प्लांट लेकर आया है, जिसमें स्वीडन, फिनलैंड, चीन और भारत से प्राप्त उन्नत तकनीकी उपकरण शामिल हैं।  50 वर्षों के अनुभव के साथ, जोधनी पेपर ने अपने ग्राहकों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए, इस प्लांट को डिजाइन किया गया है।

श्री मोहित जोधानी, ईडी - जोधनी पेपर्स लिमिटेड ने अरस्तू के दर्शन का पालन करते हुए कहा कि, "गुणवत्ता एक कार्य नहीं है, यह एक आदत है”,

“ क्राफ्ट पेपर के निर्माण में अग्रणी कंपनी होने के नाते, हमने तुमकुर वसंतनारसापुरा (Tumkur Vasanthanarasapura)औद्योगिक क्षेत्र में एक नई तीसरी 500 टन प्रति दिन क्षमता वाली इकाई  को शुरु किया है। हम इस इकाई में बेहतर गुणवत्ता का फ्लूटिंग मीडिया पेपर का उत्पादन करेंगे जिसका नाम AlfaFlute होगा, जो लगभग शून्य ब्रेक के साथ श्रेष्ठ परिस्थितियों में ग्राहक की मशीनो पर चलने में सक्षम होगा “।

श्री जोधानी बताते हैं कि हमने अपने नए संयंत्र में व्यावसायिक उत्पादन शुरू कर दिया है, नई पेपर मशीन के तकनीकी पक्ष के बारे में बात करते हुए, श्री जोधानी बताते हैं, हम भारत में एकमात्र पेपर मिल हैं जिनके पास अपने ग्राहकों को अधिकतम मूल्य देने के लिए कम जीएसएम में उच्च शक्ति वाले फ्लूटिंग पेपर बनाने के लिए एक विशेष मशीन है। गुणवत्ता और सेवाओं में शून्य समझौता करने की हमारी प्रतिबद्धता ने हमें दीर्घकालिक और वफादार ग्राहक हासिल करने में मदद की है।

आगे बताते हुए, श्री जोधानी कहते हैं कि हम फ्लैट और साफ कागज के लिए यूरोपीय तकनीक का उपयोग कर रहे हैं, लाइनर बॉन्डिंग के लिए बेहतर फ्लूटिंग, कार्टन बॉक्स में बेहतर प्रिंटिबिलिटी और बॉक्स के समृद्ध लुक को सुनिश्चित करता है, हमारे 70 जीएसएम का पेपर, एक कोरुगेशन प्लांट की 250 MPM की गति होने पर भी फटेगा नहीं । 

"हम सीडी (CD) और एमडी (MD) प्रोफाइलिंग में स्थिरता और समान जीएसएम को नियंत्रित करने के लिए सर्वश्रेष्ठ-इन-क्लास यूरोपीय तकनीक का उपयोग कर रहे हैं"

उन्होंने कहा, "हमारी मशीन की गति 700 MPM है ओर डेकल 5300 मिमी है । 

श्री जोधानी 1000 टीपीडी उत्पादन स्तर को छूने पर गर्व महसूस कर रहे हैं, "हम हर महीने 40,00,000 टन कोयला ले जा रहे हैं। तुमकुर में हमारे नवीनतम संयंत्र के साथ, आज हम प्रतिदिन 1,000 टन कागज का उत्पादन कर रहे हैं। यह हमें भारत में सबसे बड़े क्राफ्ट पेपर निर्माताओं में से एक बनाता है।"

जोधनी समूह की स्थापना श्री घनशम दास जोधानी द्वारा 1972 की गई थी, जिसे एक पेपर ट्रेडिंग कंपनी के रूप में शुरू किया गया था, जिसने बाद में 1998 की शुरुआत में खाद्य प्रसंस्करण रोलर आटा मिलों में भी कदम रखा। वर्ष 2003 है जब जोधानी समूह ने अपनी कागज निर्माण इकाई शुरू की ।

2015 के मध्य के दौरान जोधानी समूह ने खुद को विविधता दी और कोयला आयात का एक नया कार्यक्षेत्र पेश किया।


See More

Latest Photos